Pages

Friday, 27 September 2013

Mukaddar


मिलता नहीं मुकद्दर से जादा कभी किसी बन्दे को ,
वो भी अपने मुकद्दर से जादा नहीं पाता  ,
जो मुकद्दर का सिकन्दर  होता  है .